आजम ने माना ओवैसी हैं मुस्‍लिमों के लीडर

आजम ने माना ओवैसी हैं मुस्‍लिमों के लीडर





रामपुर। सुप्रीम कोर्ट द्वारा बाबरी मस्‍जिद विवाद को आपसी सहमति के आधार पर सुलझा लेने की सलाह के बाद आजम खान ने इसे एक अच्‍छी पहल बताया है। हालांकि, तंज भरे अंदाज में मीडिया से बात करते हुए आजम ने कहा कि यह मामला मजहबी लोगों ने शुरू किया है और मजहबी लोग ही इसे सुलझा सकते हैं।

पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान ने कहा है कि यह एक अच्छी पहल है। उन्‍होंने यह भी कहा कि अच्छी बात यह है कि धार्मिक लोग और यूपी के सीएम योगी जी ने यह शुरूआत की है, धार्मिक लोग ही समझौता करवा सकते हैं।

Facebook पर हमें फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें-

उलेमा काउंसिल, दिल्ली के शाही इमाम और औवेसी का नाम लेते हुए तंज भरे अंदाज में आजम ने कहा कि यही लोग मुस्‍लिमों के सच्‍चे पैरोकार हैं उन्‍हें ही बात करनी चाहिए।

इसके अलावा बरेली के तौकीर रजा खां का नाम लेते हुए उन्‍होंने कहा कि यह इस्लामिक पॉलिटिकल पार्टी है, उसे बात करनी चाहिए। अगर ये सारे लोग तैयार हैं तो जाहिर है कि हिन्दुस्तान के लोगों को कोई परेशानी नहीं है।




कहा यही वो उलेमा हैं जिन्हें हिन्दुस्तान और बीजेपी जानती है। यह लोग बीजेपी के करीब भी हैं और उसके लिए इन लोगों ने काम भी किया है। इनके बीच अगर समझौता होता है तो विचार करेंगे।

Nadeem Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.