माशाअल्लाह कौम की बेटी नीलोफर शेख को GPSC एग्ज़ाम में फर्स्ट रैंक हासिल करने पर बधाई

माशाअल्लाह कौम की बेटी नीलोफर शेख को GPSC एग्ज़ाम में फर्स्ट रैंक हासिल करने पर बधाई





अहमदाबाद के प्रसिद्ध एफ डी हाई स्कूल में पढ़ने वाले छात्र हर साल एक नई ऊंचाई पर पहुंचते हैं और देश में अपना नाम रोशन करते हैं। इसी स्कूल में पढ़ने वाली एक छात्रा नीलोफर शेख के डिप्टी कलकटर बनने का सपना अब हकीकत में बदल चुका है। नीलोफर हाल में डिप्टी कलेक्टर के लिए होने वाली प्रशिक्षण के लिए जाने वाली हैं।

जीपीएससी परीक्षा के पहले परीक्षण में प्रथम रैंक से सफल होने वाली नीलोफर ने दिन रात एक कर के यह उपलब्धि हासिल की है। नीलोफर को मिलने वाली इस सफलता को लेकर एफ डी स्कूल के प्रिंसिपल मोहम्मद हुसैन ने खुशी ज़ाहिर करते हुए कहा कि नीलोफर पहले से ही पढ़ाई में बहुत होशियार थी और स्कूल की पढ़ाई के दौरान भी उसने कई स्वर्ण पदक भी हासिल किए।

नीलोफर ने कहा कि आने वाले दिनों में वह यूपीएससी परीक्षा भी देंगी। नीलोफर को मिली इस सफलता से जहां मुस्लिम समुदाय के लोगों में खुशी का माहौल है वहीं नीलोफर कहती हैं कि इस जिम्मेदारी के बाद अब पहली प्राथमिकता लोगों के लिए कुछ काम करने की होगी।

Facebook और  You Tube पर हमें फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें- 

अहमदाबाद के जूहापूरा क्षेत्र में रहने वाली नीलोफर ने एफ डी हाई स्कूल से शिक्षा प्राप्त करके गुजरात लोक सेवा आयोग परीक्षा में सफलता प्राप्त की है।

गौरतलब है कि 2017 में जीपीएससी परीक्षा में पूरे गुजरात से चार लाख बच्चों ने आवेदन किया था और दो लाख से अधिक बच्चों ने परीक्षा दी थी। इस परीक्षा में 12 हजार बच्चों को सफलता मिली थी और 8 हजार से अधिक बच्चे मुख्य परीक्षा तक पहुंचे थे। इनमें से 14 सौ बच्चे इंटरव्यू के लिए सलेक्ट हुए। इंटरव्यू के बाद 460 बच्चे पास हुए। इनमें से सात बच्चे मुस्लिम हैं और उनमें से नीलोफर एक हैं।




इस सफलता के बाद नीलोफर खुशी ज़ाहिर करते हुए कहती हैं कि मन में अगर हौसला हो तो मंजिल को हासिल किया जा सकता है। नीलोफर के इस सफलता से उसके घर में खुशी का माहौल है।

Khushboo Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.