कांग्रेस यूँ फतह करेगी यूपी का संग्राम

कांग्रेस यूँ फतह करेगी यूपी का संग्राम

नई दिल्ली । उत्तर प्रदेश का संग्राम जीतने के लिए कांग्रेस ने आज अपने प्लान वन पर काम करना शुरू कर दिया । यूपी में बीजेपी, सपा और बसपा के दुर्गों को भेदने के लिए कांग्रेस ने खास रणनीति बनाई है । इसी रणनीति के सहारे उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावो में कांग्रेस पूरे दमखम के साथ नज़र आएगी ।

अपनी खास रणनीति के तहत कांग्रेस 45 दिनों के अंदर 27 यात्राएं आयोजित करेगी और इसके अलावा वाराणसी में सोनिया गांधी का एक रोड शो भी होगा। पहली यात्रा शनिवार को कांग्रेस मुख्यालय से निकाली जाएगी। यह यात्रा बस द्वारा की जाएगी।यह कुछ जिलों से होते हुए तीन दिन बाद कानपुर पहुंचेगी। इस यात्रा में सोनिया और राहुल गांधी के साथ सीएम केंडिकेट शीला दीक्षित, कांग्रेस महासचिव और यूपी के प्रभारी गुलाम नबी आजाद, राज्य अध्यक्ष राज बब्बर और कैंपेन कमेटी के अध्यक्ष संजय सिंह होंगे।




इसके अलावा कांग्रेस अपनी एकता दिखाने के लिए कांग्रेस के सीनियर नेताओं को भी इस बस यात्रा में शामिल कर सकती है। इसमें सलमान खुर्शीद, जितिन प्रसाद, प्रमोद तिवारी, पीएल पुनिया, प्रदीप माथुर, श्री प्रकाश जयसवाल, रीता बहुगुणा जोशी, निर्मल खतरी के नामों पर चर्चा है।

sonia-shiela

कांग्रेस ने इस बस यात्रा की थीम ‘27 साल, यूपी बेहाल‘ रखी है। सोनिया गांधी का रोड शो 2 अगस्त को होगा। इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रखा गया है। इसकी तैयारियां भी जोरों से चल रही हैं। कांग्रेस के नेताओं ने बताया कि वह विकास के मुद्दे पर पीएम को घेरने की तैयारी कर रहे हैं। इसके अलावा ‘27 साल, यूपी बेहाल‘ से बीजीपी के साथ-साथ समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी पर भी निशाना साधा जाएगा।

बरती जाएगी सावधानी :
कांग्रेस नेताओं को खास निर्देश दिए गए हैं कि वे संवेदनशील मुद्दों पर मीडिया में अपनी राय न रखें और पार्टी से मशविरा करने के बाद ही कोई बयान दें । प्रदेश के कांग्रेस नेताओं से कहा गया है कि वे पार्टी संगठन को लेकर किसी तरह का बयान न दें साथ ही सामयिक विषयों पर राय रखने से पहले पार्टी नेतृत्व को भरोसे में लेकर आगे बढ़ें ।

इतना ही नहीं पार्टी में एकजुटता दिखाने के लिए पुराने और कद्दावर नेताओं से कहा गया है कि वे पार्टी के कार्यक्रमों में सक्रीय रूप से भाग लें तथा बिना किसी खास कारण के गैर हाज़िर न रहें ।




फिलहाल पार्टी 27 जुलाई को लखनऊ में होने वाली मीटिंग की तैयारियों में लगी हुई है। इसमें राहुल गांधी कार्यकर्ताओं से बात करेंगे। यह मीटिंग रामा बाई रैली ग्राउंड पर होगी। पार्टी के लोगों का कहना है कि यह मीटिंग यूपी चुनाव के कैंपेन की शुरुआत होगी। प्रियंका गांधी का यूपी चुनाव में क्या रोल होगा यह फिलहाल साफ नहीं है।

admin

The author didn't add any Information to his profile yet.