इमाम हारून कहते रहे कि मैं आतंकियों के खिलाफ हूं, फिर भी मस्ज़िद के बाहर घसीटकर मारते रहे

इमाम हारून कहते रहे कि मैं आतंकियों के खिलाफ हूं, फिर भी मस्ज़िद के बाहर घसीटकर मारते रहे





बीते कल हरियाणा में बजरंग दल के गुंडों ने एक मौलाना को मारा-पीटा। मुसलमानों को हरियाणा में नहीं रहने की धमकी दी। घर जला देने देने की धमकी दी।.

बजरग दल के गुंडों के आतंक का वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसमें बदमाशों ने मौलाना हारून को घेर रखा है। थप्पड़ मार रहे हैं। भारत माता की जय और जय श्री राम के नारे लगाने को बोल रहे हैं।

दरअसल कपित वत्स नामक शख्स के नेतृत्व में अमरनाथ यात्रियों पर हमले के विरोध में निकली एक  रैली के दौरान बजरग दल के गुंडों ने यह शर्मनाक हरकत की।

बहरहाल, हारून ने मीडिया में एक बयान दिया है जिसे एक भारतीय के साथ ऐसी हरकत करने वाले हर आतंकियों को सुनना चाहिए।

यूपी के सहारनपुर के रहने वाले हारून ने इंडिनय एक्सप्रेस को बताया कि वो हमलावरों को लगातार ये समझाते रहे कि वो आतंकवादियों के विरोधी हैं लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी।

Facebook और  You Tube पर हमें फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें

हारून ने कहा, “मैं उन्हें समझाता रहा कि मैं आतंकवादियों और देश के गद्दारों के खिलाफ हूं। लेकिन उन्होंने मेरी नहीं सुनी और मस्जिद से बाहर घसीट कर मुझे थप्पड़ मारे।

हारून ने बताया, “बजरंग दल वाले मुझे घसीट कर बाहर ले गए और मुझसे जय श्री राम और जय माता की जैसे नारे लगाने के लिए कहने लगे। ये मेरे मजहबी यकीन का मुद्दा था। मैं डरा हुआ था और चुपचाप खड़ा था। उन्हें मुझे लगातार थप्पड़ मारे।”




उन्होंने कहा कि मैं एक मौलवी हूँ और हिसार आम बेचने आया था। हारून के अनुसार घटना के वक्त मस्जिद में चार और लोग नमाज पढ़ रहे थे। हारून के अनुसार हमलावरों ने दाढ़ी और टोपी के कारण उन्हें मारपीट के लिए चुना। हारून कहते हैं कि “अगर पुलिस वक्त पर नहीं आती तो मेरी जान चली जाती।”

हिसार के पुलिस एसपी मनीष चौधरी ने बताया कि वीडियो में दिख रहे एक आरोपी अनिल को पुलिस ने गिफ्तार कर लिया है। अनिल की स्थानीय ऑटो मार्केट में दुकान है।

Khushboo Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.