नाम फातिमा अहमद अपराध के एक साल से अपने बेटे को ढ़ूढ रही है

नाम फातिमा अहमद अपराध के एक साल से अपने बेटे को ढ़ूढ रही है
नई दिल्ली – जवाहर लाल नेहरू विश्विद्यालय के छात्र नजीब अहमद को लापता हुए पूरा एक साल हो गया है, लेकन अभी तक नजीब का कोई सुराग नहीं मिला है। पिछले पांच महीनों से यह मामला सीबीआई के पास है, लेकिन देश की इस सबसे बड़ी जांच एजेंसी के हाथ अभी तक खाली हैं।

हुजूर बीत गए 8 महीने अब तो बता दो नजीब कहां है ?

दिल्ली हाईकोर्ट ने भी सीबीआई की इस सुस्त चाल पर टिप्पणी की है. लेकिन दूसरी इंसाफ मांग रही और अपने बेटे की तलाश में दर दर भटक रही एक मां को देखिए जिसके साथ दिल्ली पुलिस ने एसा व्यवहार किया है मानो वह पीड़ित न होकर अपराधी हो, सोशल मीडिया पर ये तस्वीरें वायर हो रही हैं।




इन तस्वीरों के माध्यम लोग पुलिस की भूमिक पर भी सवाल उठा रहे हैं कि एक साल से नजीब को न ढूंढ पाने वाली दिल्ली पुलिस मानो सार गुस्सा उस अभागी मां पर ही निकाल रही है जिसका बेटा पिछले एक साल से गायब है। बता दें कि नजीब के लिये आज दिल्ली हाईकोर्ट के सामने प्रदर्शन कर रहे थे।

14 दिसंबर को नजीब के परिवार के साथ मार्च में शामिल होंगे ओवैसी

नजीब की मां फातिमा नफीस ने दो दिन पहले दिल्ली स्थित सीबीआई मुख्यालय पर भी प्रदर्शन किया था जिसमें ये मां बस इतना चाहती थी कि मामले से जुड़े सीबीआई अधिकारी आएं और उनसे मामले में की जा रही कार्यवाही के बारे में बात करें. सीबीआई के अधिकारी इतने उदार जरूर थे कि उन्होंने नजीब की मां की की बात सुनी और धरना ख़त्म हो गया.




सोमवार को नजीब के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई थी, जिसमे अदालत ने इस मामले में सीबीआई के ढुलमुल रवैय्ये को लेकर उसे फटकार लगाई, अदालत में सुनवाई के बाद नजीब की मां फातिमा नफीस अदालत के बाहर मीडिया से बात कर रहीं थीं तभी पुलिस वाले उन्हें घसीटते हुए उठाकर थाने ले गये। नज़ीब के दोस्तों का आरोप है कि इस दौरान पुलिस ने नज़ीब की मां के साथ बदसलूकी की. दो लोगों को मामूली चोट भी आई हैं.

Facebook और  You Tube पर हमें फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें-

Nadeem Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.