दारूल उलूम के फतवे को जमीयत उलेमा हिन्द के महासचिव अरशद मदनी ने किया खारिज -P2N

दारूल उलूम के फतवे को जमीयत उलेमा हिन्द के महासचिव अरशद मदनी ने किया खारिज -P2N

आजमगढ़ जिले में जमेत उलेमा हिन्द की तरफ से आयोजित संविधान सुरक्षा सम्मेलन में पहुंचे वक्ताओं में भारत माता की जय के नारे लगाये जाने को लेकर मतभेद उभर कर सामने आया. जहां दारूल उलूम के फतवे को जमीयत उलेमा हिन्द के महासचिव ने खारिज किया वहीं स्वामी अग्निवेश ने फतवे का समर्थन किया.

आजमगढ़ जिले के सरायमीर थाना क्षेत्र के मदरसा जामिया शरइया फैजुल उलूम शेरवा के ईदगाह में जमीयत उलेमा हिन्द की तरफ से आयोजित विशाल संविधान सुरक्षा सम्मेलन में देशभर से कई सामाजिक कार्यकर्ता, धर्मगुरू, राजनीतिज्ञ शामिल हुए. सम्मेलन में हजारों की संख्या में लोगों ने भी शिरकत की. इस दौरान दारूल उलूम द्वारा भारत माता की जय पर जारी किये फतवे का जहां स्वामी अग्निवेश ने समर्थन किया वहीं जमीयत उलेमा हिन्द के महासचिव ने खारिज कर दिया.

गौरतलब है कि सहारनपुर के इस्लामिक शिक्षण संस्था दारुल उलूम ने एक फतवा जारी करते हुए कहा था कि मुसलमानों को भारत माता की जय नहीं बोलना चाहिए. फतवे के मुताबिक भारत उनका वतन है और वे उससे प्यार करते हैं लेकिन वे उसकी इबादत नहीं कर सकते क्योंकि इस्लाम में सिर्फ अल्लाह की इबादत की बात कही गई है.

Khushboo Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.