भारत से जाकर नौकरी करने वालों के लिए सऊदी अरब ने जारी की नई गाइडलाइंस

भारत से जाकर नौकरी करने वालों के लिए सऊदी अरब ने जारी की नई गाइडलाइंस





जो भारतीय सऊद अरब में नौकरी की तैयारी में हैं उनके लिए सऊदी अरब सरकार ने नए दिशा निर्देश जारी किए हैं ।

सरकार ने कहा है कि सऊदी अरब में नौकरी तलाश रहा कोई भी शख्स मोबाइल, लैपटॉप में अश्लील सामग्री, काला जादू जैसा कुछ ना रखे ।

सऊदी सरकार ने ‘सऊदी अरब में नौकरी की तलाश कर रहे भारतीयों के लिए जरूरी सूचना’ के शीर्षक से गाइड लाइन जारी की है ।

जिसमें लोगों को बताया गया है कि उन्हें क्या करना है और क्या नहीं करना है। सऊदी अरब में करीब तीस लाख भारतीय नौकरी की तलाश के लिए पहुंचे हैं।

जारी की गई एडवायजरी में आगे कहा गया, ‘सऊदी जाने वाले ऐसा कुछ भी अपने साथ ना लें जो वहां निषेध है या वहां गैरकानूनी है।

Facebook और You Tube पर हमें फ़लो करने के लिए यहां क्लिक करें-

मोबाइल, लैपटॉप आदि चीजों में भी ऐसा कुछ भी ना रखे जो निषेध और गंदा हो।’ यहां पोर्क, पान मसाला, नार्कोटिक दवाएं, इस्लाम के अलावा किसी और धर्म का पाठ करने की मनाही है ।

लेकिन आमतौर पर भारतीय कामगार इनपर ध्यान नहीं देते जिससे उन्हें सऊदी में खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

सऊदी में काफी बड़ी तादाद में भारतीयों को वहां के कानून के उल्लंघन में जेल में जाना पड़ता है। देश में जादू-टोने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है।

अगर किसी मामले में आरोप सिद्ध हो जाता है तो दोषी को मौत की सजा तक देने का प्रावधान है। इसलिए एडवायजरी में लोगों को गले में तावीज भी ना पहनने की हिदायत दी गई है।




सरकार ने भर्ती एजेंटों को भी इसके लिए चेतावनी दी है, जो लोगों को झूठा लालच देकर मुश्किल में डाल देते हैं । नए नियम के अनुसार अब कोई भी भर्ती एजेंट सर्विस चार्ज के रूप में किसी से भी बीस हजार रुपए से ज्यादा फीस नहीं ले सकेगा।

सऊदी श्रम मंत्रालय अब विदेशी कामगारों को मुफ्त में मोबाइल सिम कार्ड देता है। सरकार ने भारतीय कामागारों को सलाह देते हुए कहा कि वो देश में मोबाइल फोन रखें।

सऊदी सरकार की जारी गाइड लाइन्स को ध्यान पर रखकर भारतीय अगर वहां नौकरी तलाशने जाते हैं तो वो मुश्किलों से बच सकते हैं ।

Nadeem Akhtar

The author didn't add any Information to his profile yet.