हैदराबाद के भाषण में बादशाह-ए-सलामत मुस्लिमों पर हुए अत्याचार को बताना क्यूं भूल गए-बैरिस्टर ओवैसी

हैदराबाद के भाषण में बादशाह-ए-सलामत मुस्लिमों पर हुए अत्याचार को बताना क्यूं भूल गए-बैरिस्टर ओवैसी

हैदराबाद: AIMIM के अध्यक्ष असदउद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गौ-रक्षकों की गुन्डा-गर्दी के बयान पर अपनी प्रतिक्रया ज़ाहिर की है. उन्होंने कहा कि जो प्रधानमंत्री कह रहे हैं क्या उस पर वो काम भी करेंगे.




उन्होंने मोदी से पूछा कि क्या सिर्फ़ शब्दों से काम चल सकता है. उन्होंने कहा कि जब अखलाक़ को मारा गया तो प्रधानमंत्री कुछ नहीं बोले, जब दो मुसलमानों को झारखण्ड में मार दिया गया और एक जम्मू के ट्रक चालाक को मारा गया, मोदी ख़ामोश रहे लेकिन अब मोदी ने चुप्पी तोड़ी है.

FACEBOOK पर हमारे पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें-

हैदराबाद के सांसद ने कहा कि गुजरात के उना जिले में हुई दलितों के साथ ज़लील हरकत ने सेक्युलर लोगों को एक कर दिया है और शायद इसी भय की वजह से वो बोलने पर मजबूर हुए हैं. ओवैसी ने कहा कि दलितों और मुसलमानों के साथ अत्याचार वहीँ हो रहे हैं जहां पर बीजेपी की सरकार है या फिर इनका संगठन मज़बूत है. उन्होंने ये भी कहा कि गौ-रक्षकों के सभी समूह किसी ना किसी तरह संघ परिवार से सम्बद्ध हैं.




ओवैसी ने कहा कि महाराष्ट्र, झारखण्ड और हरयाणा जैसे राज्यों में जहाँ पर बीजेपी की सरकारें हैं वहाँ पर किसी की माँ की हिफ़ाज़त के लिए उतने सख्त क़ानून नहीं हैं जितने गाय की हिफ़ाज़त के लिए हैं. “इन राज्यों में किसी की माँ को परेशान करने पर सात साल की सज़ा नहीं है लेकिन गाय को परेशान करने पर सात साल की सज़ा है”

admin

The author didn't add any Information to his profile yet.