Opinion

Opinion

निपोटिज्म वाले आरक्षण के दम पे खुद जज बने और देश में आरक्षण ख़त्म करने के फैसले दे रहे थे.. किसी टुच्चे कॉलेज से LLB करके बार काउन्सिल में रजिस्ट्रेशन करवा लीजिये..  और कोई अन्य धंधा करने के साथ छुट-पुट केस लेते रहिये (भले जीतो या हारो)..

चीनी वीडियो एप Tiktok को छोड़िए, और अब ज़रूरी है भारत-चीन सीमा विवाद की बात करना. मामला गंभीर ज़रूर है और भारत की स्थिति नाज़ुक भी है जिस पर बात करना है बेहद ज़रूरी।

Instead, his services should be used to bridge gap with Arab world

बीबीसी ने व्हाट्सएप के इन स्क्रीन शॉट में दिख रहे मोबाइल नंबर मिलाए और ये जानने की कोशिश कि आखिर ये कौन लोग हैं और इस घटना से इनका क्या संबंध है

पीएसी तैनात होने के बावजूद 22-23 दिसंबर 1949 की रात अभय रामदास और उनके साथियों ने दीवार फाँदकर राम-जानकी और लक्ष्मण की मूर्तियाँ मस्जिद के अंदर रख दीं और यह प्रचार किया कि भगवान राम ने वहाँ प्रकट होकर अपने जन्मस्थान पर वापस क़ब्ज़ा प्राप्त कर लिया है.

बीजेपी एक नहीं, बल्कि अनेक मायनों में ‘पार्टी विद अ डिफरेंस’ है। वह देश की एकमात्र ऐसी बड़ी राजनैतिक पार्टी है जो भारतीय संविधान में निहित प्रजातंत्र और धर्मनिरपेक्षता के मूल्यों के बावजूद यह मानती है कि भारत एक हिन्दू राष्ट्र है।

बंबई हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने मेट्रो कार शेड के लिए मुंबई के प्रमुख हरित क्षेत्र आरे कॉलोनी में पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने से शनिवार को इनकार कर दिया था.