दिल्ली हिंसा में चार्जशीट: दिल्ली में हत्याओं से पहले कट्टर हिन्दू एकता के नाम से बनाया गया था वाटस्अप ग्रुप

इस गुप के एक मेंबर ने लिखा था कि में गंगा विहार का रहने वाला हूं. अगर कोई दिक्कत आए, लोग कम पड़ें, तो मुझे बताना मैं पूरी फौज लेकर आ जाऊंगा।हमारे पास सब समान है...

Share
Written by
पल पल न्यूज़ वेब डेस्क
3 जुलाई 2020 @ 18:50
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Delhi Riots

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा के दौरान गोकलपुरी इलाके में 25-26 फरवरी को हुए दंगे के मामले में दिल्ली पुलिस ने कुछ दिन पहले कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी।

इस चार्जशीट के अनुसार गोकलपुरी इलाके के जोहरीपुर पुलिया नाले में मुस्लिम समुदाय के 9 लोगों की हत्या कर उनकी लाशें फेंक दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने दूसरे समुदाय के 9 लोगों को गिरफ्तार किया था।

वहीं अब इस चार्जशीट के मुताबिक, दंगे फैलाने और एक विशेष समुदाय के लोगों की हत्या करने और आगजनी का बदला लेने के लिए ‘कट्टर हिंदू एकता’ नाम से एक व्हाट्सऐप ग्रुप बनाया गया था।

इस वॉट्सएप ग्रुप में 125 लोगों को शामिल किया गया था और यह ग्रुप 25 और 26 फरवरी को हुई हिंसा के एक दिन पहले 24 फरवरी को बनाया गया था।

बता दें कि इस गुप के एक मेंबर ने लिखा था कि में गंगा विहार का रहने वाला हूं और अगर कोई दिक्कत आए, या लोग कम पड़ें, तो मुझे बताना मैं पूरी फौज लेकर आ जाऊंगा।हमारे पास सब समान है, गोली बंदूक सबकुक. अभी-अभी तुम्हारे भाई ने दो मारे भी है और नाले में फेंका है।

चार्जशीट में लिखा है 25-26 फरवरी को दंगों के दौरान जोहरीपुर नाले के पास से जो लोग गुजर रहे थे, उनसे इस व्हाट्सऐप ग्रुप से जुड़े आतंकी उनका नाम पूछ रहे थे, फिर उनसे जय श्रीराम के नारे लगाने को बोलने रहे थे।जिसने जय श्रीराम का विरोध किया, उसकी हत्या कर उसके शव को नाले में बहा दिया गया था।

इस चार्जशीट के अनुसार, मुख्य आरोपी अभी तक फरार है।क्राइम ब्रांच ने व्हाट्सऐप ग्रुप और हत्या से जुड़े एक आरोपी की सबसे पहले गिरफ्तारी की और तब उसका मोबाइल फोन बरामद हुआ था। तब जाकर दंगो में हत्याओं को अंजाम देने के लिए इस व्हाट्सऐप ग्रुप का खुलासा हुआ था।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें