मुजफ्फरनगर में 26 को एक और महापंचायत, हिंद मजदूर किसान समिति की बैठक में एक और महापंचायत करने ने की घोषणा

गठवाला खाप के चौधरी राजेंद्र मलिक के मुताबिक, कुछ दिन पूर्व संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा आयोजित की गई महापंचायत में किसानों की समस्याओं को सही तरह से नहीं रखा गया था. जिसके चलते इस महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है.

Share
Written by
11 सितम्बर 2021 @ 19:15
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
विजय रूपाणी को गुजरात के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में फिर से महापंचायत की जा रही है. इस बार 26 सितंबर को हिंद मजदूर किसान समिति ने महापंचायत बुलाई है. इसे गठवाला खाप के मुखिया चौधरी राजेंद्र मलिक ने भी अपना समर्थन दिया है.

दरअसल शनिवार को नगर की बच्चन सिंह कॉलोनी में हिंद मजदूर किसान समिति ने एक मीटिंग का आयोजन किया था. जिसमें समिति के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने तो हिस्सा लिया ही, इसमें गठवाला खाप के चौधरी राजेंद्र मलिक भी पहुंचे. मीटिंग के दौरान किसानों की समस्याओं को लेकर 26 सितंबर को नगर के राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में एक महापंचायत करने की घोषणा की गई.

मीडिया से गठवाला खाप के चौधरी राजेंद्र मलिक ने बताया कि किसानों की बिजली, पानी, गन्ने के रेट आदि समस्याओं को लेकर 26 सितंबर को राजकीय इंटर कॉलेज के मैदान में एक महापंचायत बुलाई गई है. जिसमें मुजफ्फरनगर और शामली जनपद के किसान और मजदूर हिस्सा लेंगे. राजेंद्र मलिक की मानें तो कुछ दिन पूर्व संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा आयोजित की गई महापंचायत में किसानों की समस्याओं को सही तरह से नहीं रखा गया था. जिसके चलते इस महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है. इसमें किसानों की समस्याओं को सही तरह से सरकार के सामने रखा जाएगा.

चौधरी राजेंद्र मलिक का साफ तौर पर ये भी कहना है कि कृषि बिल को लेकर चल रहे संयुक्त किसान मोर्चे के आंदोलन में सरकार और किसान दोनों का ही रवइया अड़ियल रहा है. अगर इसे निकालकर आपस में बातचीत की जाये तो समस्या का हल निकल जाएगा. आपको बता दे की कुछ समय पूर्व टिकैत बंधुओं के गांव सिसौली में बुढ़ाना विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक उमेश मलिक की गाड़ी पर हुए हमले को लेकर गठवाला खाप के चौधरी राजेंद्र मलिक टिकैत बंधुओं से नाराज चल रहे हैं. जिसके चलते इन्होंने 5 सितंबर की महापंचायत में हिस्सा नहीं लिया था. अब एक और महापंचायत की घोषणा से ये भी साफ दिखाई पड़ रहा है कि कहीं न कहीं अब खापों में उठापटक शुरू हो गई.

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें