मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्तियों से संबंधित फाइल लापता होगई 

मामले की जानकारी तब सामने आई जब आजमगढ़ एसपी ने एक चिट्ठी लिखकर लखनऊ की दो संपत्तियों की जानकारी मांगी

Share
Written by
14 अक्टूबर 2021 @ 10:25
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
mukhtar ansari

लखनऊ: मुख्तार अंसारी पर शिकंजा कसने के लिए उसकी बेनामी संपत्तियों को खंगाला जा रहा है लेकिन आजमगढ़ और लखनऊ जिला प्रशासन के सामने यह समस्या आ गई है कि उनकी संपत्तियों से जुड़ी फाइलें ही नहीं मिल रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुख्तार और उनकी पत्नी के नाम पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज इलाके में जिस संपत्ति का उल्लेख किया गया है उसकी फाइल लापता है, फिलहाल निगम, एलडीए को पत्र लिखकर इसका मूल्यांकन कराने के लिए कह रहा है।
मामले की जानकारी तब सामने आई जब आजमगढ़ एसपी ने एक चिट्ठी लिखकर लखनऊ की दो संपत्तियों की जानकारी मांगी। पत्र में पूछा गया कि यह संपत्ति किस किस नाम पर हैं और उनका पूरा ब्यौरा उपलब्ध कराया जाए। चिट्ठी के बाद जब कागजात तलाशे गए तो हड़कंप मच गया। एसपी द्वारा लिखी गई चिट्ठी में पूछा गया कि प्लॉट नंबर 47, जिसका नगर निगम नंबर 47 है और इसका क्षेत्रफल 8312 स्कावयर फीट है। इसका एक चौथाई हिस्सा, विधानसभा मार्ग पर है, जोकि हुसैनगंज इलाके में आता है। इस जमीन को सुनील चक नाम के शख्स ने मुख्तार अंसारी की पत्नी आफ्सा अंसारी को बेचा था।
रिकॉर्ड से यह जानकारी गायब है कि इससे पहले में यह जमीन किसके पास थी। एसडीएम प्रफुल्ल त्रिपाठी के अनुसार, जिस जमीन का जिक्र किया गया है, वह हुसैनगंज के पुराने गांवों से जुड़ी है, जिसके अभिलेख तहसील में नहीं है। बताया जा रहा है कि 1983-84 में लगी आग में इन गांवों के अभिलेख जल गए थे।
जानकारों की मानें तो लखनऊ विकास प्राधिकरण और नगर निगम के पास टैक्स का ब्योरा होता है इसलिए इसके अभिलेख मिल सकते हैं। कागजात गायब होने के साथ साथ इस जमीन की सही कीमत भी नहीं पता लग पा रही है। लिहाजा इसकी जिम्मेदारी भी एलडीए और नगर निगम को सौंपी गई है।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मुख्तार इन दिनों बांदा जेल में बंद हैं। करीब सात साल पुराने मामले में पिछले दिनों उनसे पूछताछ भी हुई थी। आजमगढ़ के ऐराखुर्द गांव में सड़क ठेके को लेकर हुई मारपीट में मजदूर की मौत हो गई थी। इस मामले में अंसारी पर साजिश रचने का आरोप लगा है।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें