‘कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट बौद्ध अनुयायियों के आकर्षण का केन्द्र बनेगा’

कुशीनगर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा के अस्तित्व में आने देश दुनिया के बौद्ध अनुयायियों को भगवान गौतम बुद्ध से जुड़े तीर्थस्थलों का भ्रमण करने में सुविधा होगी बल्कि इससे पूर्वांचल के विकास में और तेजी आयेगी।

Share
Written by
20 अक्टूबर 2021 @ 13:06
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
FILE PHOTO



श्री मोदी ने बुधवार को यहां 260 करोड़ की लागत से तैयार अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का लोकर्पण करने के बाद कहा कि भारत विश्व भर के बौद्ध समाज की श्रद्धा एवं आस्था का प्रेरणा केन्द्र है। यह हवाई अड्डा एक प्रकार से उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है। भगवान बुद्ध के ज्ञान से लेकर महापरिनिर्वाण तक का साक्षी यह क्षेत्र आज हवाई सेवा के जरिये दुनिया से जुड़ गया है। श्रीलंका एयरलाइंस के विमान का आज कुशीनगर में उतरना इस पुण्य भूमि को नमन करने के समान है।
उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश का इंटरनेशनल एयरपोर्ट दशकों तक हवाई सेवा से जुड़ने की आशाओ और अपेक्षाओं का परिणाम है। श्री मोदी ने कहा कि उनकी खुशी दोहरी है कि एक तरफ आध्यत्मिक तौर पर वह एयरपोर्ट के खुलने से प्रसन्न है जबकि पूर्वांचल के प्रतिनिधि के तौर पर उनके मन में संतोष का भाव है कि यह कमिटमेंट पूरा हो रहा है।
श्री मोदी ने कहा श्रीलंका,थाईलैंड,जापान, श्रीलंका और कोरिया समेत तमाम बौद्ध अनुयायी देशों के श्रद्धालुओं को यहां आने में अब कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ेगा। कुशीनगर एयरपोर्ट सिर्फ एयर कनेक्टिविटी का ही माध्यम नहीं बल्कि यहां के उद्यमी,किसान,पशुपालक और कारोबारियों को भी अवसर उपलब्ध करायेगा। यहां व्यापार कारोबार का इको सिस्टम विकसित होगा जिससे यहां के युवाओं को रोजगार के नये अवसर बनेंगे।

उन्होने कहा कि रेल,सड़क,जलमार्ग अथवा हवाई सेवा को मजबूत करने की दिशा में सरकार प्रयासरत है। इसके अलावा टूरिज्म को बढाने के लिये होटल, साफ सफाई समेत अन्य क्षेत्रों में भी एक साथ काम करने की जरूरत है। आज टूरिज्म के अहम क्षेत्र के रूप में जाना जाने लगा है। वैक्सीनेटड कंट्री होने के नाते दुनिया के पर्यटकों के लिये आश्वस्त व्यवस्था कारक बन सकता है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने विकास को उन क्षेत्रों तक पहुंचने पर जोर दिया जिनके बारे में पिछली सरकारों ने सोचा ही नहीं था। देश में हवाई कनेक्टिविटी बढाने के लिये 900 से अधिक नये रूट को स्वीकृति दी गयी है जिनमें से 300 से अधिक पर हवाई सेवा शुरू भी की जा चुकी है। 50 से अधिक नये एयरपोर्ट चालू किये गये है। अगले दो सालों में 200 से अधिक एयरपोर्ट और जल सेवा का नेटवर्क चालू करने की उम्मीद है।

उन्होने कहा कि भारत का सामान्य आदमी अब हवाई अड्डो पर ज्यादा दिखने लगा है। मिडिल क्लास अब हवाई सेवा का लाभ लेने लगे है। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश में नये अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे नोएडा स्थित जेवर पर काम चल रहा है। इसके साथ ही अयोध्या,अलीगढ,आजमगढ,चित्रकूट,मुरादाबाद और श्रावस्ती के नये हवाईअड्डों का निर्माण कार्य जोरो पर है।

श्री मोदी ने कहा कि दिल्ली और कुशीनगर के बीच अगले महीने स्पाइसजेट की उडान सेवा शुरू की जा रही है। इससे घरेलू श्रद्धालुओं को सुविधा होगी। उनकी सरकार ने उड्डयन क्षेत्र की मजबूती के लिये एयर इंडिया के साथ बड़ा कदम उठाया है। इसके अलावा नयी फ्लाइंग एकडेमी शुरू की गयी है।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें