त्रिपुरा में हमारे मुसलमान भाइयों पर क्रूरता हो रही है: राहुल गांधी 

राज्य के मुसलमानों के घरों, व्यवसायों और मस्जिदों पर हमले और तोड़फोड़ की खबरों के बीच काँग्रेसस नेता ने सरकार को निशान बनाया

Share
Written by
29 अक्टूबर 2021 @ 00:05
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
rahul gandhi

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को कहा कि त्रिपुरा में मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ क्रूरता हो रही है।  उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए यह सवाल भी किया कि आखिर सरकार कब तक अंधी-बहरी होने का नाटक करती रहेगी
कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, ‘‘त्रिपुरा में हमारे मुसलमान भाइयों पर क्रूरता हो रही है। हिंदू के नाम पर नफ़रत व हिंसा करने वाले हिंदू नहीं, ढोंगी हैं। सरकार कब तक अंधी-बहरी होने का नाटक करती रहेगी?’’
राहुल गांधी ने यह ट्वीट उस वक्त किया है जब पिछले कुछ दिनों से त्रिपुरा में हिंसा से कथित तौर पर संबंधित तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किए जा रहे हैं। इधर बीबीसी की एक रिपोर्ट मे सूचना दी गई है कि “पूर्वी बांग्लादेश की सीमा से लगा भारतीय राज्य त्रिपुरा एक सप्ताह से हिंसा की चपेट में है। यहां रहने वाले मुसलमानों के घरों, व्यवसायों और मस्जिदों पर हमले और तोड़फोड़ के कई मामले सामने आए हैं। 
मीडिया रिपोर्टों और स्थानीय लोगों के अनुसार, कम से कम एक दर्जन मस्जिदों में तोड़फोड़ की गई है या आग लगा दी गई है, और कई जगहों पर मुसलमानों के घरों और कारोबारों पर हमला किया गया है”। 
बीबीसी की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि ” त्रिपुरा में मुसलमान अल्पसंख्यक हैं और अधिकतर आबादी हिंदुओं की है।  इनमें बड़ी संख्या में बांग्लादेश से आए हिंदू भी हैं।  बांग्लादेश में हाल के दिनों में हिंदुओं पर कई हमले हुए हैं।  लोग त्रिपुरा में मुसलमानों पर हो रहे हमलों को उन्हीं की प्रतिक्रिया के तौर पर देख रहे हैं”। 
इधर दूसरी ओर पुलिस ने गुरुवार को कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में है। हालांकि, कुछ लोगों ने निहित स्वार्थ के चलते फेक न्यूज फैलाई है। त्रिपुरा पुलिस ने बुधवार देर शाम अपने ऑफिशल ट्विवटर अकाउंट से ट्वीट किया, 'कुछ लोग फर्जी सोशल मीडिया आईडी का इस्तेमाल करते हुए त्रिपुरा के बारे में अफवाहें फैला रहे हैं।' उन्होंने यह भी ट्वीट किया कि उत्तरी त्रिपुरा में पानीसागर में कोई मस्जिद नहीं जलाई गई थी। ट्वीट में कहा गया है, 'कल उत्तरी त्रिपुरा स्थित पानीसागर में एक प्रदर्शन रैली के दौरान कोई मस्जिद नहीं जलाई गई। आगजनी और तोड़फोड़ की जो भी तस्वीरें शेयर की गईं वे सभी फर्जी हैं और त्रिपुरा की नहीं हैं। हो सकता है कि वे सभी अलग देशों की हों।' त्रिपुरा पुलिस ने सभी समुदायों के लोगों से अनुरोध किया है कि वे इस तरह के फर्जी अकाउंट से फैलाई जा रही अफवाहों का समर्थन ना करें और ना ही इन्हें आगे बढ़ाएं। ट्वीट किया गया, 'हमने पहले ही इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और जो लोग फर्जी खबरें फैला रहे हैं उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।'

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें