पड़ोसी महिला के घर मे घुसकर अभद्रता करने का आरोपी बाबा पकड़ा गया 

श्री कृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास का अध्यक्ष है आचार्य देव मुरारी बापू जिस ने छह दिसंबर को वृन्दावन से शाही मस्जिद ईदगाह तक पदयात्रा निकालना चाहता था

Share
Written by
1 दिसंबर 2021 @ 14:24
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
baba.jpg


आगरा: श्री कृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास के अध्यक्ष आचार्य देव मुरारी बापू को पुलिस ने बुधवार को हिरासत में ले लिया। उन्होंने मुकदमा दर्ज होने को लेकर पुलिस पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था और दोपहर बाद आत्महत्या की धमकी दी थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वृन्दावन निवासी देव मुरारी बापू के खिलाफ तीन अगस्त को पड़ोस की महिला ने घर मे घुसकर अभद्रता करने और दस लाख की चौथ मांगने की तहरीर दी थी। दैनिक जागरण के अनुसार इसमे पुलिस ने जांच के बाद मंगलवार को देव मुरारी बापू समेत तीन नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। जबकि देव मुरारी बापू ने पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा है कि छह दिसंबर को वह वृन्दावन से शाही मस्जिद ईदगाह तक पदयात्रा निकालना चाहते हैं ,इसलिए पुलिस ने झूठी रिपोर्ट दर्ज की। बुधवार को देव मुरारी ने दोपहर दो बजे अपने उत्पीडन के खिलाफ आत्महत्या करने की धमकी दी थी। पुलिस ने वृन्दावन स्थित घर से देव मुरारी बापू को हिरासत में ले लिया है। थाना प्रभारी वृन्दावन अजय कौशल ने बताया कि देव मुरारी को हिरासत मे ले लिया गया है।
ध्यान रहे पीड़ित महिला ने आरोप लगाया था कि तीन अक्तूबर को वह अपने घर से स्कूटी से जा रही थी।, कुछ दूर पहुंचते ही देव मुरारी बापू के घर के सामने बने ऊंचे-ऊंचे ब्रेकर से स्कूटी असंतुलित होकर गिर गई। उन्होंने स्पीड ब्रेकर को गलत बताते हुए लोगों के गिरने की बात कही तो आरोपी उन्हें भद्दी-भद्दी गालियां देने लगे तथा गलत तरीके से धक्का भी दिया। अमर उजाला के अनुसार पीड़िता का आरोप है कि सौरभ गौतम और गौरव गौतम निवासी किशोरपुरा पर उनके 35 लाख रुपये हैं। इसको लेकर अदालत में केस चल रहा है। कुछ दिन पूर्व देव मुरारी बापू, सौरभ, गौरव व दो अन्य लोगों को लेकर उनके घर पहुंचे। गाली गलौज करते हुए असलहा निकालकर रुपये के लेनदेन के मामले में चल रहे मुकदमे को वापस लेने की कहते हुए उन्हें जान से मारने की धमकी दी और 10 लाख रुपये की चौथ भी मांगी।  पीड़िता का आरोप है कि तीन दिन पूर्व इन लोगों ने उनके पीछे एक चार पहिया गाड़ी को लगा दिया। इसमें कई लोग सवार थे। उन्होंने पीड़िता को जान से मारने की धमकी दी है। इस संबंध में उन्होंने संत देव मुरारी बापू, गौरव एवं सौरभ व दो अन्य के खिलाफ कोतवाली में नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। कोतवाली प्रभारी अजय कौशल ने बताया कि महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एसएसपी डॉ.गौरव ग्रोवर ने बताया कि शिकायत के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।
इधर देव मुरारी बापू ने कहा कि महिला से कोई वाद-विवाद नहीं है। महिला से कोई रुपयों का लेन देन नहीं है। उनको न तो धमकाया है और न कभी कोई गाली दी है। इस बात को मोहल्ले के सारे लोग बता सकते हैं। किसी ने उनको भड़का दिया होगा क्योंकि जो ब्रेकर की बात है, ब्रेकर कॉलोनी में सभी की सहमति से बनवाए गए थे। तहरीर तीन अक्तूबर की बताई जा रही है और मुकदमा अब लिखा है। इसका मतलब पुलिस हमको जानबूझकर बदनाम करना चाहती है और हमारे छह दिसंबर को श्रीकृष्ण जन्म भूमि स्थान की शाही ईदगाह के लिए पदयात्रा को कमजोर करना चाहती है, यह मेरे साथ बहुत बड़ा षड्यंत्र है। देव मुरारी ने यह भी बताया कि महिला ने अपनी शिकायत वापस ले ली है, हालांकि बाद में महिला ने पुलिस से यह भी कहा कि देव मुरारी ने धमकी देकर हस्ताक्षर करा लिए।
 

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें