समाजवादी बनते ही इमरान मसूद पर मुकदमा 

आचार संहिता के साथ ही कोरोना गाइडलाइन का भी उल्लंघन करने का लगा आरोप

Share
Written by
11 जनवरी 2022 @ 00:38
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
imran masood.jpg

सहारनपुर: कांग्रेस के कद्दावर लीडर इमरान मसूद जिन्होंने सोमवार की सुबह समाजवादी पार्टी को गले लगाने का फैसला किया, उन्हें शाम होते होते मुकदमा का सामना करना पद गया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उनहोने अपने आवास पर कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटाकर बैठक की और कांग्रेस छोड़कर सपा में जाने की घोषणा की। बैठक के लिए इमरान ने कोई अनुमति नहीं ली थी, जिसके बाद उनपर कार्रवाई की गई । इमरान मसूद एवं अन्य पर आरोप है कि उन्होंने आचार संहिता के साथ ही कोरोना गाइडलाइन का भी उल्लंघन किया। खबर है कि इमरान मसूद समेत 300 लोगों के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। 
एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि कुतुबशेर थाना प्रभारी पीयूष दीक्षित सोमवार दोपहर कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के लिए मास्क की चेकिंग कर रहे थे। जब वह अंबाला रोड स्थित कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव इमरान मसूद के आवास पर पहुंचे तो वहां सैकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद थी। पुलिस ने भीड़ जुटाने का कारण पूछा लेकिन इमरान ने कोई जवाब नहीं दिया। थाना प्रभारी ने उच्चाधिकारियों को सूचना दी। एसपी सिटी ने बताया कि एसएसपी आकाश तोमर के आदेश पर कुतुबशेर थाने में इमरान मसूद और सहारनपुर देहात सीट से कांग्रेस के विधायक मसूद अख्तर समेत 300 लोगों के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन, कोरोना महामारी अधिनियम, धारा 144 का उल्लंघन करने की धारा 188 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें तीन माह की सजा व एक हजार जुर्माने का प्रविधान है। यह जमानती धारा है। बैठक व मौजूद भीड़ का वीडियो भी वायरल हो रहा है। मुकदमे में इमरान मसूद, विधायक मसूद अख्तर के अलावा शादान मसूद समेत दस लोगों को नामजद किया गया है।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें