67 लाख लेने के बाद भी टिकट नहीं दिया, पुलिस में शकायत 

मुज़फ़्फ़रनगर में चरथावल विधानसभा क्षेत्र के बसपा नेता अरशद राणा ने बसपा नेताओं पर लगाए संगीन आरोप

Share
Written by
14 जनवरी 2022 @ 19:09
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
bsp.jpg

मुज़फ़्फ़रनगर: मुज़फ़्फ़रनगर में चरथावल विधानसभा क्षेत्र के एक बसपा नेता अरशद राणा ने शहर कोतवाली में बसपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ तहरीर सौंपी है। उन्होंने तहरीर में आरोप लगाए हैं कि बसपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें चरथावल विधानसभा क्षेत्र से टिकट दिलाने का वादा किया था, लेकिन अब पार्टी ने ये टिकट किसी और को दे दिया है। 
इस बारे में सोशल मीडिया पर अरशद राणा का रोते हुए करीब 36 सेकंड का एक वीडियो भी काफी सर्कुलेट हो रहा है। शहर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक आनंद देव मिश्र ने कहा, "गुरुवार देर शाम बसपा नेता अरशद राणा कोतवाली पहुंचे थे। उन्होंने बसपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं पर 5-5, 10-10 लाख रुपये कर क़रीब 67 लाख रुपये लेने का आरोप लगाया है। अरशद राणा से इस संबंध में सबूत मांगे गए हैं। सबूत दिए तो एफआईआर दर्ज कर दी जाएगी।"
अरशद राणा का वीडियो शुक्रवार को मीडिया और सोशल मीडिया पर खूब सर्कुलेट हो रहा है।अरशद राणा ने बीबीसी से फोन पर कहा, "मैं 24 वर्षों से बहुजन समाज पार्टी में कार्यरत हूं।  बसपा में पार्टी के कार्यकर्ता के रूप में काम कर रहा था।  इन्होंने मुझे 18 दिसंबर 2018 को प्रभारी घोषित किया था। एक कार्यक्रम में यह घोषणा की गई थी।  यह वीडियो भी मेरे नाम से यूट्यूब पर पड़ी हुई है। मैंने 50 लाख एक बार में दिए और 17 लाख दूसरी बार दिए, इस प्रकार कुल 67 लाख रुपये दे चुका हूं।  मुझे इन्होंने कल ही पद से हटाया है।"
उन्होंने आगे कहा, "बसपा ने मुझे मुस्लिम भाईचारा कमेटी में विधानसभा अध्यक्ष बनाया हुआ था। मेरे साथ इंसाफ होना चाहिये।"
उधर, बहुजन समाज पार्टी मुज़फ्फरनगर के ज़िला अध्यक्ष सतीश कुमार ने इस संबंध में कहा, अरशद राणा 2018 की बात बता रहे हैं, मैं ज़िलाध्यक्ष 2020 में बना हूं। मुझसे अरशद ने यह बात रखी थी पर मैंने उनसे पहले ही बता दिया था कि काग़ज़ों में आप कहीं भी प्रभारी नहीं हो। "उन्होंने अरशद राणा के बसपा की बैठकों में शामिल होने की बात स्वीकार की। 

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें