अखिलेश यादव को मिला ममता बनर्जी का हाथ 

तृणमूल कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया

Share
Written by
19 जनवरी 2022 @ 01:05
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
mamta and akhilesh.jpg

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को एक और राजनीतिक दल का साथ मिला है। तृणमूल कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किरणमय नंदा ने मंगलवार को कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में मैदान में नहीं उतरेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी अखिलेश यादव के साथ एक वर्चुअल रैली भी करेंगी। जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार किरणमय नंदा ने ममता बनर्जी से कालीघाट स्थित उनके आवास पर मुलाकात के बाद यह स्पष्ट किया कि बंगाल की सीएम ममता बनर्जी आगामी 8 फरवरी को लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ वर्चुअल सभा करेंगी। किरणमय नंदा ने कहा, ”टीएमसी उत्तर प्रदेश चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी, बल्कि सपा को समर्थन देगी। यह ममता बनर्जी की पार्टी ही थी जिसने 2021 के विधानसभा चुनावों में पश्चिम बंगाल में सत्ता में आने के भाजपा के सपने को चकनाचूर कर दिया था। यह पूरे विपक्ष के लिए एक सबक है।”
नंदा ने कहा, ”ममता बनर्जी लखनऊ में एक वर्चुअल जनसभा को संबोधित करेंगी और हमारी पार्टी को समर्थन देने की घोषणा करेंगी।” नंदा ने यह भी कहा कि ममता फरवरी में पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का भी दौरा करेंगी लेकिन इसको लेकर अंतिम कार्यक्रम तय नहीं हुआ है।
बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले, अखिलेश यादव ने घोषणा की थी कि सपा कोई उम्मीदवार नहीं उतारेगी और टीएमसी का समर्थन करेगी। समाजवादी पार्टी प्रमुख ने राज्यसभा सांसद जया बच्चन को पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी के समर्थन में प्रचार के लिए भी भेजा था। हालांकि, टीएमसी यूपी के चुनावी महासमर में नहीं उतर रही है और ममता बनर्जी इस वक्त गोवा में प्रचार अभियान में जुटी हुई हैं। टीएमसी गोवा में पहली बार चुनाव मैदान में उतर रही है।
2019 के लोकसभा चुनावों से पहले, अखिलेश यादव ने तृणमूल कांग्रेस प्रमुख द्वारा आयोजित विपक्ष दलों की बैठक में भाग लिया था। इसके बाद से कई मौकों पर दोनों नेता विभिन्न मुद्दों को लेकर भाजपा पर हमलावर रहे हैं।
 

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें