राज ठाकरे की धमकी का दिखा असर 

महाराष्ट्र के गृहविभाग के अनुसार महानगर में कुल 1140 मस्जिदें हैं जिनमें से 135 ने आज फ़जिर की अज़ान में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करने का “जुर्म” किया जिस कारण लिया जाएगा ऐक्शन

Share
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
masjid

मुंबई: महाराष्ट्र में मस्जिदों पर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल का मुद्दा गर्माया हुआ है। इसी बीच खबर है कि राज्य सरकार मुंबई की सैकड़ों मस्जिदों के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है। खबर है कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का उल्लंघन करने वाली कुछ मस्जिदों की पहचान भी की है। आपको बाता दें कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे के सख्त तेवर के के बाद राज्य में पुलिस अलर्ट मोड पर है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अनुसार, राज्य के गृहविभाग ने कहा है कि मुंबई में कुल 1140 मस्जिदें हैं। इनमें से 135 ने आज लाउडस्पीकर का इस्तेमाल सुबह 6 बजे से पहले किया है। जो भी 135 मस्जिदें सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ गई हैं, उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। शीर्ष अदालत ने जुलाई 2005 में सार्वजनिक स्थानों पर रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। लाइव हिंदुस्तान की खबर के अनुसार मनसे प्रमुख ठाकरे के आह्वान के बाद मुंबई और आसपास के शहरों में कड़ी सुरक्षआ व्यवस्था तैनात की गई है। उन्होंने लाउडस्पीकर से अजान के विरोध में हनुमान चालीसा के पाठ की बात कही थी। इधर, पुलिस ने मनसे कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। बुधवार सुबह नवी मुंबई की सानपाड़ा पुलिस ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के शहर अध्यक्ष योगेश शेटे को हिरासत में लिया है।
भाषा के अनुसार, एक अधिकारी ने बताया कि अधिकतर मस्जिदों में सुबह की नमाज शांतिपूर्ण तरीके से अदा की गई। उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस आयुक्त संजय पांडे समेत सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सुरक्षा बलों की तैनाती का जायजा लेने के लिए गश्त पर निकले हैं। ृ कुछ जगहों पर मस्जिदों के बाहर भी पुलिस तैनात की गई है। पुलिस ने विभिन्न मस्जिदों के मौलवियों और न्यासियों के साथ बैठकें भी की और उन्हें उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों तथा ध्वनि प्रदूषण से संबंधित नियमों का पालन करने के लिए कहा।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें