ताजमहल के बंद 20 कमरों में हिन्दू देवी-देवता की कोई मूर्ति नहीं: एएसआई

तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत एस खोगले द्वारा आरटीआई द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में पुरातत्व विभाग ने दिया स्पष्ट जवाब दिया है

Share
Written by
3 जुलाई 2022 @ 23:29
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
taj mahal.jpg

नई दिल्ली: ताजमहल में बंद 20 कमरों को लेकर एएसआई ने एक आरटीआई में कहा है कि तहखानों में किसी भी हिन्दू देवी-देवता की मूर्ति नहीं है। तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत एस खोगले द्वारा आरटीआई में पूछे गए सवाल के जवाब में एएसआई ने ये जवाब दिया है। दैनिक हिंदुस्तान की खबर के अनुसार 20 जून को तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत एस गोखले ने आरटीआई के तहत पुरातत्व विभाग आगरा सर्किल से सवाल किए थे। उन्होंने ताजमहल के मंदिर की जमीन पर बनने का कोई प्रमाण होने की जानकारी मांगी थी।
इसके साथ ही ताजमहल के मुख्य गुम्बद के निचले हिस्से में बने तहखानों के 20 कमरों में हिन्दू देवी -देवताओं के होने के बारे में भी सवाल किया था। पुरातत्व विभाग ने आरटीआई नंबर 716 के जवाब में 22 जून को विभाग के केंद्रीय जनसंपर्क अधिकारी महेश चंद मीणा के द्वारा एक लाइन में जवाब दिया है। पहले सवाल का जवाब सिर्फ नो लिखा गया है और दूसरे के जवाब में तहखानों में किसी देवी-देवता की मूर्ति न होने की बात कही गई है।
पुरातत्व विभाग लगातार इस बात को नकार रहा है। कुछ महीने पहले अयोध्या के रजनीश की पीआईएल के बाद पुरातत्व विभाग ने तहखानों में कोई मूर्ति न होने की बात कही थी। अप्रैल माह के अंत में अयोध्या के संत जगत गुरु परमहंसाचार्य को भगवा और ब्रह्म दंड के साथ प्रवेश न मिलने पर यह विवाद काफी गरमाया था। आगरा में पूर्व में जिला न्यायालय में भी ताजमहल के तेजोमहल होने का वाद दाखिल दाखिल हो चुका है।

दूसरी खबरों एवं जानकारियों से अवगत होने के लिए इस वीडियो लिंक को क्लिक करना ना भूलें

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें