सहारनपुर से यूपी एटीएस ने मोहम्मद नदीम को किया गिरफ्तार 

दावा किया गया है कि यह यूवक पाकिस्तान और अफगानिस्तान के जैश ए मोहम्मद और तहरीक ए पाकिस्तान के आतंकियों से चैट और वॉइस मैसेज के जरिए बातचीत कर रहा था, पुलिस का दावा है कि नूपुर शर्मा की हत्या की फिराक में था यह शख्स

Share
Written by
13 अगस्त 2022 @ 09:55
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
muhammad nadeem.jpg

 

लखनऊ: उत्तरप्रदेश के सहारनपुर से जैश-ए-मोहम्मद और तहरीक-ए-तालिबान, पाकिस्तान से जुड़े संदिग्ध आतंकी मोहम्मद नदीम को गिरफ्तार करने का दावा किया गया है। यूपी एटीएस का दावा है कि उसे पूछताछ में आतंकी नदीम ने बताया, "उसे जैश की ओर से बीजेपी से निलंबित नूपुर शर्मा की हत्या का टास्क दिया गया था।" यूपी एटीएस ने ने दावा किया है कि उसने जैश-ए-मोहम्मद और तहरीक-ए-पाकिस्तान के आतंकियों से सीधे संपर्क में आए मोहम्मद नदीम को गिरफ्तार किया है।  विभिन्न स्रोतों से मीडिया में आ रही खबरों में बताया जा रहा है कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान के जैश ए मोहम्मद और तहरीक ए पाकिस्तान के आतंकियों से नदीम चैट और वॉइस मैसेज के जरिए बातचीत कर रहा था। 
पुलिस के दावे के अनुसार आरोपी के मोबाइल से फिदायीन बनने का पूरा कोर्स भी मिला है।  खबरों में यह भी बताया जा रहा है कि आतंकवादी ट्रेनिंग देने के लिए उसे पाकिस्तान बुला रहे थे और नदीम आतंकी ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान जाने को तैयार भी हो गया था। जैश ए मोहम्मद के आतंकी ने नदीम को नूपुर शर्मा को मारने की जिम्मेदारी दी थी।  पुलिस के दावों के अनुसार नदीम के मोबाइल से आईडी बनाने और फिदाइन बनाने का पूरा ट्रेनिंग मॉड्यूल भी बरामद हुआ है। यूपी एटीएस ने सहारनपुर के गंगोह में रहने वाले नदीम को गिरफ्तार किया है। दैनिक भास्कर के अनुसार एटीएस का कहना है कि सूचना मिली थी कि गांव कुंडाकलां, थाना गंगोह सहारनपुर में एक युवक जेईएम और टीटीपी की विचारधारा से प्रभावित होकर फिदायीन हमले की तैयारी कर रहा है। जिसके बाद युवक को पकड़ा गया। पूछताछ के बाद उसके मोबाइल को जब्त कर लिया गया है। 8 अगस्त को एटीएस ने नदीम और उसके भाई तैमूर को पकड़कर ले गई थी। तैमूर भी अभी एटीएस की गिरफ्त में है। खबरों के अनुसार जांच पड़ताल में पता चला है कि पकड़े गए शख्स की पाकिस्तान में दो बुआ रहती हैं। जांच में जुटी टीम का दावा है कि यह रिश्तेदारी की आड़ में ट्रेनिंग लेने पाकिस्तान जाना चाहता था। नदीम के पांच भाई और दो बहनें हैं। पढ़ा-लिखा नहीं है। पूरा परिवार किसान है।नदीम मूलरूप से सरसावा के गांव ढिक्का कला का रहने वाला है। उसके पास 50 बीघा कृषि भूमि है। यूपी एटीएस के अधिकारी ने बताया, "आतंकी मोहम्मद नदीम तहरीक-ए-तालिबान आतंकी संगठन के सैफुल्ला (पाकिस्तानी) से फिदायीन हमले की तैयारी करने के लिए सोशल मीडिया के जरिए ट्रेनिंग ले रहा था।"
उन्होंने बताया, "वह किसी सरकारी भवन या पुलिस परिसर पर फिदायीन हमला करने की फिराक में था। नदीम को अफगानिस्तान और पाकिस्तान में सक्रिय जैश-ए-मोहम्मद और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के आतंकवादी स्पेशल ट्रेनिंग देने के लिए पाकिस्तान बुला रहे थे। वह मिस्र के जरिए सीरिया और अफगानिस्तान जाने की भी योजना बना रहा था।"
बता दें कि पैगंबर मोहम्मद के बारे में नूपुर शर्मा की आपत्तिजनक टिप्पणियों के बाद भारत में भारी विरोध हुआ। वहीं खाड़ी देशों ने भी आधिकारिक शिकायतें की। इसके बाद नूपुर शर्मा को भाजपा के प्रवक्ता पद से निलंबित कर दिया गया था। 
इससे पहले राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन पर कन्हैया लाल की हत्या कर दी गई थी। उन्होंने इसका वीडियो भी बनाया था। कन्हैयालाल शहर के व्यस्त धन मंडी बाजार में अपनी दुकान पर थे, तभी हमलावर गौस मोहम्मद और रियाज अख्तरी ग्राहक बनकर दुकान में आए और उन पर हमला कर दिया। 

दूसरी खबरों एवं जानकारियों से अवगत होने के लिए इस वीडियो लिंक को क्लिक करना ना भूले

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें