जाने कौन कौन से राजकुमार, पीएम और मंत्री आए करोना की चपेट में

कोरोना वायरस की चपेट में आने से न तो आम आदमी बच पा रहा है और न ही खास व्‍यक्ति इससे बचे रहे हैं

Share
Written by
पल पल न्यूज़ वेब डेस्क
26 मार्च 2020 @ 16:09
Many princes, PMs and ministers hit by Karona virus

कोरोना वायरस की चपेट में आने से न तो आम आदमी बच पा रहा है और न ही खास व्‍यक्ति इससे बचे रहे हैं। स्‍पेन की डिप्‍टी पीएम कार्मेन काल्वो भी इसके टेस्‍ट में पॉजिटिव पाई गई हैं। आपको यहां पर ये भी बता दें कि काल्‍वो का पहला टेस्‍ट नेगेटिव आने के बाद मंगलवार को दोबारा COVID19 इन्फेक्शन टेस्‍ट हुआ था, जिसमें वह पॉजिटिव पाई गई हैं। उनको पूरी तरह से आइसोलेशन में रखा गया है और डॉक्‍टर उनकी सेहत पर नजर रख रहे हैं। इसके बाद इस वायरस की चपेट में आने वाले देश-विदेश के माननीयों की संख्‍या भी बढ़ गई है।

इससे पहले स्पेन की मंत्री इरेन मोंटरो भी कोरोना वायरस की जांच में पॉजिटिव पाई गई थीं। वह विश्व महिला दिवस पर मैड्रिड में एक मार्च में शामिल हुई थीं, जिसकी वजह से वह इस वायरस की चपेट में आ गई थीं। उन्‍होंने इसकी जानकारी ट्वीट कर दी थी। इसमें उन्‍होंने लिखा कि वह अलग रहकर इलाज करवा रही हैं।

जहां तक स्‍पेन की बात है तो यूरोप में इटली के बाद स्‍पेन में इस वायरस का सबसे अधिक प्रकोप देखा जा रहा है। यहां अब तक कुल 3,434 लोगों की मौत हो गई है। स्पेन ने रातभर में 700 से अधिक लोगों के मौत की पुष्टि की है। स्पेन की सरकार के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 738 लोगों की मौत हुई है और यह आंकड़ा 3434 पहुंच गया है। स्पेन में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 47,610 है। सिर्फ स्पेन की राजधानी में ही अब तक 1,535 लोगों की मौत हो चुकी है। इतना ही नहीं इसकी चपेट में वहां के स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी भी बड़ी संख्‍या में चपेट में आए हैं। इनकी भी संख्‍या करीब 5,400 तक पहुंच गई है।

आपको बता दें कि ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्‍स भी इस टेस्‍ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। हालांकि, उनकी 72 वर्षीय पत्‍नी कैमिला कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाई गई हैं। द टेलीग्राफ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि दोनों पति-पत्‍नी अब स्‍कॉटलैंड में आइसोलेसन में रह रहे हैं। उन्‍हें इस वायरस ने मोनाको के प्रिंस एल्‍बर्ट से मुलाकात के बाद चपेट में लिया है। मोनाको के प्रिंस एल्बर्ट और प्रिंस चार्ल्स की मुलाकात 10 मार्च को हुई थी। इसके तुरंत बाद एल्बर्ट टेस्‍ट में कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

भारत की बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर भी इस टेस्‍ट में पॉजिटिव पाई गई हैं। उन्‍होंने भी प्रिंस चार्ल्‍स के साथ एक पार्टी में मुलाकात की थी। कनिका के टेस्‍ट में पॉजीटिव होने के बाद उनकी प्रिंस चार्ल्‍स के साथ तस्‍वीरें काफी वायरस भी हुई थीं। हालांकि, डॉक्‍टरों के मुताबिक उनकी हालत में अब सुधार है। कनिका भारत आने के बाद कई नेताओं से भी मिली थीं। जिसके बाद इन सभी का टेस्‍ट करवाया गया था।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पत्नी सोफी ट्रूडो भी बीते दिनों कोरोना से संक्रमित पाई गई थीं। सोफी ट्रूडो को आइसोलेशन में रखकर उनका ट्रीटमेंट किया जा रहा है। यही नहीं जस्टिन ट्रूडो को भी सेल्फ आइसोलेशन में रखा गया है।

ब्रिटेन की स्वास्थ्य मंत्री नदीन डॉरिस ने कोरोना वायरस की चपेट में आने की जानकारी खुद शेयर की है। उनके मुताबिक इस बीच जितने भी लोगों ने उनसे मुलाकात की है स्वास्थ्य विभाग उन सभी से संपर्क करने की कोशिश कर रहा है। वायरस की चपेट में आने के बाद से उन्‍हें घरवालों से अलग रखा गया है। उनका ऑफिस फिलहाल बंद है और डॉक्‍टर उनकी हालत पर निगाह बनाए हुए हैं।

ऑस्ट्रेलिया के गृह मंत्री पीटर डटन भी कोरोना वायरस की चपेट में हैं। गृह मंत्री पीटर ने इसकी जानकारी ट्वीट कर दी है। इसमें उन्‍होंने लिखा है कि सुबह जब वे जगे तो उन्‍हें हल्का बुखार और गला खराब था। उन्‍होंने इसका तुरंत टेस्‍ट कराया तो ये टेस्‍ट पॉजीटिव आया।

ऑस्‍ट्रेलिया में शूटिंग के दौरान एक्‍‍‍‍टर टॉम हैंक्‍स और उनकी पत्‍नी रीटा इस वायरस की चपेट में आ गए हैं। उन्‍होंने अपनी हेल्‍थ की जानकारी देते हुए उन तमाम लोगों को धन्‍यवाद कहा है जिन्‍होंने उनके इस वायरस के चपेट में आने के बाद चिंता जताई थी। उन्‍होंने बताया है कि ऑस्ट्रेलिया में शूटिंग के बाद लौटते हुए उन्हें बहुत ज्यादा ठंड और थकान होने लगी और शरीर पर रैशेज पड़ गए। ये दोनों यहां पर एल्विस प्रेसली फिल्म की शूटिंग के लिए आए थे। इसके बाद जो टेस्ट हुआ इसमें वो पॉजिटिव पाए गए।

ईरान में विदेश मंत्री मोहम्मद जावेद जरीफ के सलाहकार हुसैन शेखोलेसलाम की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है। उनके निधन की जानकारी सरकारी संवाद समिति इरना ने दी थी। शेखोलेसलाम सीरिया में राजदूत रहने के अलावा 1981 से 1997 तक उप विदेश मंत्री भी रहे थे। उनके अलावा तेहरान के सांसद फातेमेह रहबर संक्रमित होने के बाद वर्तमान में कोमा में हैं। इसकी चपेट में ईरान की संसद के दो दर्जन से ज्‍यादा सांसद चपेट में हैं। जरीफ ने 1979 के अमेरिकी दूतावास बंधक संकट में भी हिस्सा लिया था।

Click on the ad to support Pal Pal News