'हम फिलिस्तीनी भूमि को किसी और को देने की अनुमति नहीं देंगे': एर्दोगान

फिलिस्तीन को किसी की झोली में डाल दिया जाये और हम ख़ामोश रहें ,यह मुमकिन नहीं :एर्दोगान

Share
Written by
पल पल न्यूज़ वेब डेस्क
28 मई 2020 @ 15:48
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Turkey seems to be successful in making Corona vaccine, Turkey is getting a big prize

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान ने रविवार को फिलिस्तीन के लिए अपने देश के समर्थन को दोहराया और ईद के मौके पर एक बार फिर फिलिस्तीन मुस्लिमों को विश्वास दिलाया।

रेसेप तैयप एर्दोगन ने ट्विटर पर एक वीडियो में अमेरिकी मुसलमानों को संबोधित करते हुए कहा, “हम फिलिस्तीनी भूमि को किसी और को देने की अनुमति नहीं देंगे।”

एर्दोगन ने जेरूसलम में अल-अक्स मस्जिद का जिक्र करते हुए कहा, “मैं अल-कुद्स अल-शरीफ, जो तीन धर्मों का पवित्र स्थल है और हमारा पहला किला है, दुनिया भर के सभी मुसलमानों के लिए एक लाल रेखा है।” टेंपल माउंट के रूप में यहूदियों द्वारा, और पवित्र सेपुलर के ईसाई चर्च का घर नही बनाया जाएगा।

”उन्होंने कहा, पिछले हफ़्ते हमने देखा कि फिलिस्तीन की संप्रभुता और अंतर्राष्ट्रीय कानून की अवहेलना करने वाले एक नए व्यवसाय और एनेक्सेशन परियोजना को इज़राइल द्वारा कार्रवाई में डाल दिया गया था।

इज़राइल ने कहा है कि वह 1 जुलाई को वेस्ट बैंक के कुछ हिस्सों को एनेक्स करेगा, जैसा कि प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और ब्लू एंड व्हाइट पार्टी के प्रमुख बेनी गैंट्ज़ के बीच सहमति हुई थी।

योजना ने दुनिया भर में नाराजगी और विशेष रूप से तुर्की में तीव्र निंदा की है।पूर्वी यरुशलम सहित वेस्ट बैंक को अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत कब्जे वाले क्षेत्र के रूप में देखा जाता है, इस प्रकार वहां सभी यहूदी बस्तियों को बनाया जाता है।

 

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें