बड़ी साजिश की फिराक में पाक, नियंत्रण रेखा से सटे गांव करा रहा खाली

पाकिस्तान नियंत्रण रेखा के पास सेना का जमावड़ा और आधुनिक हथियार कर रहा इकट्ठे।

Share
Written by
पल पल न्यूज़ वेब डेस्क
8 जून 2021 @ 15:37
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
Pakistan Border pal pal news

पाकिस्तान भारत के खिलाफ पुंछ जिले की सीमा के उस पार बड़ी संख्या में हथियार व सेना के अतिरिक्त जवानों को तैनात कर रहा है। वहां के गांवों को खाली कराया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार पुंछ जिले के खड़ी करमाड़ा और देगवार सेक्टर के उस पार पाकिस्तानी इलाके के तोली पीर में कई दिन से पाकिस्तानी सैनिकों की तरफ से काफी हलचल देखी जा रही है। वह नियंत्रण रेखा के नजदीक सेना का जमावड़ा और आधुनिक हथियार इकट्ठे कर रहा है। इस काम में हेलीकाप्टर और बुलेटप्रूफ गाड़ियों की सहायता ली जा रही है। वहीं, तोली पीर इलाके के नजदीकी गांव से गांववासियों को जबरन निकाल कर गांव को खाली करवाया गया है। गांववासियों को तहसील बाग में भेज दिया गया है।तोली पीर इलाके में पाकिस्तानी सैनिक हरकत में हैं।

जानकारी के अनुसार हाल के दिनों में स्थानीय लोगों को बताया गया था कि पाकिस्तानी सेना और अन्य किसी मित्र देश की सेना का साझा युद्धाभ्यास होगा, लेकिन कुछ दिनों के बाद इलाके को सैन्य छावनी में बदल दिया गया और लोगों को इलाका खाली करने के आदेश जारी कर दिए गए। जो लोग वहां से नहीं निकले, उन्हें जबरन निकाल कर तहसील बाग में भेज दिया गया। जब तक नए आदेश नहीं जारी होते, तब तक लोगों को तोली पीर इलाके में जाने की इजाजत नहीं है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सैनिकों के साथ चीन की सेना भी तैनात है, जो किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिराक में है। सीमा पर बढ़ती हलचल को देखकर भारतीय सेना के जवानों ने भी चौकसी पहले से अधिक बढ़ा दी है। आपको जानकारी हो कि इसी साल 25 फरवरी को भारत और पाकिस्तान के बीच डीजीएमओ स्तर पर बातचीत हुई थी, जिसमें संघर्ष विराम पर हुए समझौते पर अमल करने की सहमति बनी थी। तब से अब तक एलओसी पर खामोशी है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दो बार फार्यंरग हो चुकी है। अब पाकिस्तान की संदिग्ध हरकत से आशंका है कि एलओसी पर फिर तनाव बढ़ सकता है।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें