पंजशीर फतह होने के बाद जश्न बना लोगो की मौत का कारण

तकिबान ने अफगानिस्तान में पंजशीर को लेकर खूनी संघर्ष जारी है। अफगानिस्तान की सत्ता में 20 साल बाद वापसी करने वाले तालिबान ने दावा किया कि उसने पंजशीर पर भी कब्जा जमा लिया है। पंजशीर में कब्जे के बाद तालिबान ने रात में हवाई फायरिंग कर जश्न मनाया।

Share
Written by
4 सितम्बर 2021 @ 10:41
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
panjshir news

नई दिल्ली. तकिबान ने अफगानिस्तान में पंजशीर को लेकर खूनी संघर्ष जारी है। अफगानिस्तान की सत्ता में 20 साल बाद वापसी करने वाले तालिबान ने दावा किया कि उसने पंजशीर पर भी कब्जा जमा लिया है। पंजशीर में कब्जे के बाद तालिबान ने रात में हवाई फायरिंग कर जश्न मनाया। हालांकि, तालिबान का यह जश्न आम अफगानियों के लिए जी का जंजाल बन गया और काबुल में तालिबान की हवाई गोलाबारी में बच्चों सहित कई लोग मारे गए और कई घायल हुए हैं। 

बताया गया की हवाई फायरिंग ने काबुल में कई लोगों की जानें ले लीं। तो वही काबुल के जश्न के बीच रेसिस्टेंस फोर्स ने तालिबान के दावे का खंडन करते हुए कहा कि पंजशीर अब भी उन्हीं के कब्जे में है और जंग में उन्होंने तालिबान को भारी नुकसान पहुंचाया है। तालिबान की गोलीबारी में घायल हुए अपने प्रियजनों को शुक्रवार देर रात कई लोग अस्पताल ले गए।

बात की जाए तो इस बीच अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति और पंजशीर से तालिबान को चुनौती दे रहे अमरुल्लाह सालेह खुद एक वीडियो के जरिए सामने आए हैं और उन्होंने कहा कि वह देश छोड़कर भागे नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि वह पंजशीर घाटी में ही हैं और रेसिस्टेंस फोर्स के कमांडरों और राजनीतिक हस्तियों के साथ हैं। 
 

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें