कुवैती सेना में महिलाओं की भर्ती की इजाज़त 

देश के रक्षा मंत्री शेख हमद जबेर अल-अली अल-सबाह ने मंगलवार को कहा कि सेना के दरवाजे अब कुवैती महिलाओं के लिए भी खुले हैं

Share
Written by
13 अक्टूबर 2021 @ 16:24
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
Kuwait

कुवैत सिटी: कुवैत सेना ने मंगलवार को कहा कि कुवैती महिलाओं को वर्षों तक नागरिक भूमिकाओं तक सीमित रहने के बाद पहली बार युद्धक भूमिकाओं में सेना में भर्ती होने की इजाजत दी जाएगी।
शुरुआत में उन्हें चिकित्सा और सैन्य सहायता क्षेत्रों में सेवा करने की इजाजत दी जाएगी। कुवैती रक्षा मंत्री ने कहा कि महिलाओं को सेना में सेवा देने की इजात देने से सरकारी एजेंसियों को किसी भी आंतरिक कठिनाइयों से निपटने में मदद मिलेगी। दूसरी ओर कुवैती महिलाओं को भी देश की सैन्य सेवा में योगदान करने पर गर्व होगा। याद रहे कि कुवैती महिलाओं को 2005 में वोट देने का अधिकार मिला था, वे कैबिनेट और संसद दोनों में सक्रिय हैं। हालांकि हाल के संसदीय चुनावों में महिलाओं को एक भी सीट नहीं मिली है। कुवैत ने हाल के सालों में महिलाओं को सशक्त बनाने में काफी प्रगति की है और अब कई क्षेत्रों में महिलाएं हैं जिन पर पहले पुरुषों का एकाधिकार माना जाता था। कुवैती सरकार ने पिछले महीने स्वीकार किया था कि वह महिलाओं को सेना में शामिल होने की अनुमति देने पर विचार कर रही है।
खाड़ी देश के इतिहास में यह पहली बार है कि महिलाएं सेना में अपनी सेवा दे सकेंगी। कुवैत की सरकारी समाचार एजेंसी कुना के मुताबिक रक्षा मंत्री शेख हमद जबेर अल-अली अल-सबाह ने मंगलवार को कहा कि सेना के दरवाजे अब कुवैती महिलाओं के लिए भी खुले हैं। वे सैन्य सेवा में विशेष अधिकारी और गैर-कमीशन अधिकारी के रूप में भर्ती हो सकती हैं। सालों तक सेना में सिर्फ नागरिक भूमिकाओं में सीमित रहने वाली महिलाओं के लिए इस तरह का पहला मौका है। कुवैती रक्षा मंत्री ने महिलाओं की "क्षमताओं और कठिन परिस्थितियों में खुद को साबित करने की क्षमता" पर भी संतोष जाहिर किया। कुवैती महिलाएं साल 2001 से पुलिस बल में काम कर रही हैं, जिससे उनके लिए सेना में शामिल होने का रास्ता साफ हो गया है। कुवैती रक्षा मंत्री ने कहा कि महिलाओं को सैन्य सेवा में भर्ती करने की अनुमति देने का फैसला देश और इसकी सुरक्षा और स्थिरता की रक्षा में सेना की जिम्मेदारियों में महिलाओं की भागीदारी पर आधारित है। उन्होंने महिलाओं की "क्षमताओं और कठिनाई को सहने की क्षमता" पर विश्वास जताया है।

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें