इसराइल की गोलीबारी में 18 साल के फ़लस्तीनी किशोर की मौत

फ़लस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि जेनिन शरणार्थी कैंप पर छापेमारी के दौरान इसराइली बलों ने अमजद अल फ़याद नाम के बच्चे की जान ले ली

Share
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
israel.jpg

नई दिल्ली: फ़लस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि जेनिन शरणार्थी कैंप पर छापेमारी के दौरान इसराइली बलों ने अमजद अल फ़याद नाम के एक किशोर की गोली मार कर जान ले ली है। जेनिन शरणार्थी कैंप इसराइल के कब्ज़े वाले वेस्ट बैंक (पश्चिमी तट) इलाक़े में है। 
फ़लस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इस हमले में एक 18 वर्षीय युवक भी गंभीर रूप से घायल हुआ है। पिछले सप्ताह चर्चित फ़लस्तीनी पत्रकार शिरीन अबु अकलेह की इसी तरह की एक छापेमारी की कवरेज के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। शिरीन अल जज़ीरा की पत्रकार थीं। शिरीन की मौत के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसराइल की आलोचना की गई थी। बुधवार को अरब मूल के सांसद ग़ाइदा रिनावे ज़ोआबी ने इसराइल की गठबंधन सरकार से अपने आप को अलग कर लिया था। उन्होंने इसराइल सरकार की कठोर कार्रवाइयों की आलोचना करते हुए ये निर्णय लिया। अरब मूल की सांसद के सरकार से अलग हो जाने के बाद प्रधानमंत्री नेफ़्ताली बेनेट की सरकार अल्पमत में आ गई है। प्रधानमंत्री बेनेट के लिए अब जटिल राजनीतिक परिस्थितियां पैदा हो गई हैं। इसी बीच जेनिन में मारे गए किशोर का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। यहां इसराइली बलों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन भी हो रहे हैं।  
 

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें