काबुल के मशहूर गुरुद्वारे के करीब दो बलास्ट 

गुरुद्वारे के अध्यक्ष गुरनाम सिंह ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया है कि गुरुद्वारे के परिसर में क़रीब 30 लोग फंसे हैं, कुछ मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि इस हमले में गार्ड समेत दो अफगानी नागरिक मारे गए हैं,भारतीय विदेश मंत्रालय इस हमले से काफ़ी चिंतित

Share
Written by
18 जून 2022 @ 11:54
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
blast in kabul.jpg

काबुल/नई दिल्ली: अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल के मशहूर गुरुद्वारे करते परवान के परिसर में शनिवार की सुबह ज़बरदस्त हमला होने की ख़बर है। कुछ मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि इस हमले में गार्ड समेत दो अफगानी नागरिक मारे गए हैं। तीन तालिबानी सैनिक भी घायल हुए हैं। अभी तक यह साफ़ नहीं हो सका है कि किसने यह हमला किया है। लेकिन आशंका है कि आईएस के चरमपंथियों ने इस हमले को अंजाम दिया है। अफ़ग़ानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार गुरुद्वारे पर शायद कार बम से हमला किया गया। हमले के बाद आसमान में धुएं का गुबार उठता हुआ पाया गया। 
वहीं इस गुरुद्वारे के अध्यक्ष गुरनाम सिंह ने समाचार एजेंसी रॉयटर्स को बताया है कि गुरुद्वारे के परिसर में क़रीब 30 लोग फंसे हैं। हालांकि अभी तक हताहतों की संख्या की सटीक जानकारी नहीं मिल सकी है।  गुरनाम सिंह ने यह भी बताया है कि तालिबान शासन परिसर में किसी को घुसने नहीं दे रहा है। सोशल मीडिया पर चल रही ख़बरों में दावा किया जा रहा है कि परिसर में बंदी बनाए गए लोग गुरुद्वारे की दूसरी मंज़िल पर हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इस हमले के बारे में कहा है कि भारत इस गुरुद्वारे पर हुए हमले से काफ़ी चिंतित है। उनके अनुसार, भारत इस हालात पर अपनी नज़र बनाए हुए है और जानकारी मिलने का इंतज़ार कर रहा है। 

टोलो न्यूज के मुताबिक, काबुल के गुरुद्वारा कर्ते-परवान के गेट के बाहर शनिवार सुबह 7। 30 बजे (भारतीय समयानुसार सुबह 8। 30 बजे) दो ब्लास्ट हुए। इसके बाद गुरुद्वारा परिसर के अंदर भी दो ब्लास्ट हुए। अंदर के ब्लास्ट से गुरुद्वारा से जुड़ी कुछ दुकानों में आग लग गई, जो पूरे परिसर में फैल गई।
स्थानीय लोगों ने सबसे पहले यह नजारा देखा। गुरुद्वारे से 3 लोग बाहर आने में कामयाब रहे, जिनमें से 2 घायल थे। इन्हें अस्पताल भेजा गया है। ताजा जानकारी के मुताबिक, सिख संगत के 7 से 8 लोग और दो हमलावर अभी भी गुरुद्वारे के अंदर ही हैं। गुरुद्वारा दशमेश पिता साहिब जी कर्ते परवान में केवल आग और धुआं नजर आ रहा है। श्री गुरु ग्रंथ साहिब और गुरुद्वारे के मुख्य दरबार हॉल तक भी आग के फैलने की खबर मिली है।

याद रहे कि 25 मार्च 2020 को ISIS-हक्कानी नेटवर्क के बंदूकधारी और फिदायीन हमलावरों ने काबुल में गुरुद्वारा हर राय साहिब पर हमला किया था। तब गुरुद्वारा में करीब 200 लोग मौजूद थे, जिसमें से 25 लोगों की मौत हुई थी। मरने वालों में एक बच्चा भी शामिल था। हमले में 8 लोग घायल हुए थे। कई घंटों तक सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चली थी, जिसमें सभी आतंकी मारे गए थे।
इधर स्थानीय समाचार रिपोर्टों में कहा गया है कि यह यहां पर बहुत ज्यादा आबादी है और कई लोगों के मरने की आशंका है। अफगानिस्तान के टोलो न्यूज ने आज ट्वीट किया, "काबुल सिटी के कार्त परवान क्षेत्र में विस्फोटों की आवाज़ सुनी गई। इस घटना की प्रकृति और हताहतों के बारे में विवरण अभी तक ज्ञात नहीं हैं।"

दूसरी खबरों एवं जानकारियों से अवगत होने के लिए इस वीडियो लिंक को क्लिक करना ना भूलें

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें