पाकिस्तान में सैमसंग पर लगा ईशनिंदा का आरोप

कराची में पुलिस ने कथित ईशनिंदा को लेकर शुक्रवार को सैमसंग कंपनी के 27 कर्मचारियों को हिरासत में लिया है

Share
Written by
1 जुलाई 2022 @ 22:48
पल पल न्यूज़ का समर्थन करने के लिए advertisements पर क्लिक करें
Subscribe to YouTube Channel
 
pakistan.jpg

कराची: पाकिस्तान के कराची में पुलिस ने कथित ईशनिंदा को लेकर शुक्रवार को सैमसंग कंपनी के 27 कर्मचारियों को हिरासत में लिया है। पाकिस्तान की डॉन न्यूज वेबसाइट के मुताबिक दक्षिण पुलिस के एक प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि उन्हें सूचना मिली कि स्टार सिटी मॉल में एक 'वाईफाई डिवाइस' लगाया गया है जिससे कथित तौर पर पैगंबर के साथियों के ख़िलाफ़ टिप्पणी की जा रही है। 
वेबसाइट के मुताबिक इसके ख़िलाफ़ लोगों ने प्रदर्शन किया और मॉल के साइन बोर्ड के साथ तोड़फोड़ की जिसके बाद मोबाइल फोन की मार्केट को बंद करना पड़ा। 
पुलिस के मुताबिक मामले की गंभीरता को देखते हुए वाईफाई डिवाइस को जब्त कर लिया है और निजी कंपनी के 27 कर्मचारियों को हिरासत में लिया गया है। वहीं सैमसंग पाकिस्तान ने बयान जारी कर कहा है कि कंपनी ने धार्मिक भावनाओं पर तटस्थता बनाए रखी है और कंपनी सभी धार्मिक भावनाओं का सम्मान करती है। कंपनी ने यह भी कहा कि उसने मामले की 'तत्काल' आंतरिक जांच शुरू कर दी है। 

खबरों के अनुसार कराची में सैमसंग के एक बड़े शोरूम के बाहर कुछ लोग वहां लगे साइनबोर्ड को उखाड़कर गिरा रहे हैं।  भीड़ में शामिल लोग किसी चरमपंथी समूह के लग रहे हैं।  उनका दावा है कि कंपनी ने ईशनिंनदा में लिप्त है। भीड़ नारे लगा रही है कि जो कोई भी ईशनिंदा करेगा उसका गला काट दिया जाना चाहिए। इस वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कैसे लोग साइन बोर्ड को उखाड़कर गिरा रहे हैं। यहा सैमसंग के अलावा चाइनीज कंपनी विवो का भी शो रूम दिख रहा है।  
आपको याद दिला दें कि गौरतलब है कि पिछले साल पाकिस्तान में एक कपड़ा कंपनी के बाहर लगे एक बैनर को हटाने की वजह से श्रीलंका निवासी उस कंपनी के मैनेजर प्रियंता कुमार की उग्र भीड़ ने हत्या कर दी थी। भीड़ ने इल्जाम लगाया था कि कुमार ने बैनर को हटाकर ईशनिंदा की है। हालांकि इस मामले में पाकिस्तान की कोर्ट ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लगभग 7 दोषियों को मौत की सजा और भीड़ में शामिल 600 लोगों को सजा सुनाया है।  अभी चार दिन पहले ही राजस्थान के उदयपुर में दो चरमपंथी आतंकवादियों ने पूर्व भाजपा नेता का समर्थन करने पर एक दर्जी की गला रेतकर हत्या कर दी थी।  नुपूर शर्मा पर पैगम्बर साहब के खिलाफ आपत्तिजनक बयान यानी ईश निंदा का आरोप है।  

दूसरी खबरों एवं जानकारियों से अवगत होने के लिए इस वीडियो लिंक को क्लिक करना ना भूलें

पल पल न्यूज़ से जुड़ें

पल पल न्यूज़ के वीडिओ और ख़बरें सीधा WhatsApp और ईमेल पे पायें। नीचे अपना WhatsApp फोन नंबर और ईमेल ID लिखें।

वेबसाइट पर advertisement के लिए काॅन्टेक्ट फाॅर्म भरें