विमर्श

विमर्श

आप किससे उम्मीद कर रहे हैं? भारत का 99.999 प्रतिशत मीडिया गोदी मीडिया है। यह एक परिवार की तरह काम करता है। इस परिवार के संरक्षक का नाम आप जानते हैं।

16 जनवरी को व्हाट्सएप चैट की बातें वायरल होती हैं। किसी को पता नहीं कि चैट की तीन हज़ार पन्नों की फाइलें कहां से आई हैं।

यह आपका भ्रम है कि गोदी मीडिया से सूचना मिलती है और आप इसके लिए चैनल देखते हैं या अख़बार पढ़ते हैं। एक भ्रम और फैलाया जाता है कि सबकी अपनी-अपनी विचारधारा होती है।

जिस फोन में वाट्सअप, फेसबुक वगैरह चलाते हों संभव हो तो उसमें कॉन्टेक्ट सेव ना करें, ना ही पर्स्नल डाटा रखें और ना ही उससे पेमेंट करेँ। पेमेंट के बाद ब्राउजर (खास तौर पे गूगल क्रोम) आपका कार्ड डिटेल सेव करने को पूछता है तो No कर दें।

भारत सरकार द्वारा पूंजीपतियों के हित में लाए गए काले कृषि कानूनों के विरुद्ध ज़ारी किसान आंदोलन का आज तेरहवां दिन है।

पता चलता है रिश्ते का हनीमून पीरियड गुज़र जाने के बाद

नोटबन्दी के दो दिन बाद ही पता लग गया था कि ये गलत फ़ैसला है लेकिन ज़िद और ईगो ने वापस पलटने न दिया